Monday, 13 May 2013

लड़कियां

होती बहुत महान हैं, देखो ये लड़कियां
पर लेती कभी जान हैं, देखो ये लड़कियां

लड़कों को देखो खूब,रिझाती हैं लड़कियां
कितनों के दिल मे आग, लगाती हैं लड़कियां

जलती है लड़कियों से, ये देखो लड़कियां
लड़ती हैं मुश्किलों से ,कितनी ही लड़कियां

कितनी ये ज़ुल्म सहती, बेचारी ये लड़कियां
पर कभी ज़ुल्म करती खूब,देखो ये लड़कियां

मां -बाप की दुलारी, होती हैं लड़कियां
पर कभी उनके दिल पे ,आरी बनती है लड़कियां

कई रूपों मे उपकार ये ,करती हैं लड़कियां
कभी-कभी तो प्यार मे, जलती है लड़कियां

कभी घर को देखो स्वर्ग, बनाती हैं लड़कियां
कभी किसी घर मे नर्क, मचाती हैं लड़कियां

दौलत के लिये जंग, कराती ये लड़कियां
जीवन मे कई रंग, दिखाती है लड़कियां

कभी घर से झूठ बोल,जाती लड़कियां
कभी मनचलों के जाल मे ,फंस जाती लड़कियां

होती बहुत महान हैं, देखो ये लड़कियां
पर लेती कभी जान हैं, देखो ये लड़कियां

मोहन श्रीवास्तव (कवि)
www.kavyapushpanjali.blogspot.com
रचनांकन तिथि-११-०५-२०१३
रात्रि- बजे,शनिवार,
पुणे , महाराष्ट्र



Post a Comment