Wednesday, 14 August 2013

स्वतंत्रता दिवस यह प्यारा

आप सभी को मुबारक हो,
स्वतंत्रता दिवस यह प्यारा
सारे जहां से न्यारा है ,
ये तिरंगा हमारा प्यारा

इसी तिरंगे के लिये उन सबने,
कितने सहे झमेले थे
कितने फासी पे झुले थे,
और कितने दुःख को झेले थे

कितने जुल्म ढहाये थे उन पर,
अंग्रेजी सिपहसलारों ने
कितनो की ईज्जत लूटी थी,
उन भीड़ भरे बाजारों मे

खून की होली खेले थे वे,
जलियावाला बाग मे
कितनो को जलाया था उन सबने,
जलती हुई उस आग मे

बहुत बड़ी मुश्किल से हमे,
हमारा स्वराज मिला है
उन सबके बलिदानों से,
ये आजादी का पुष्प खिला है

आओ हम सब प्रण करते हैं,
इस झण्डे की शान बढ़ायेंगे
हम सब अपनी मेहनत लगन से,
अपने भारत को महान बनायेंगे
हम सब अपनी मेहनत लगन से,
अपने भारत को महान बनायेंगे......

मोहन श्रीवास्तव (कवि)
13-08-2013,tuesday,7:30pm,(721)

pune,maharashtra.  
Post a Comment