Tuesday, 7 January 2014

नया साल मुबारक हो

नया साल मुबारक हो,
दिल के सपनें, साकार हो।
जीवन मे सफलता, कदम चुमें,
सुख मय सदा, परिवार हो

कभी कांटा चुभे,ठोकर ना लगे,
जब चलें आप, कहीं राहों मे
जीवन मे हर पल, उजाला हो,
गूंजे नाम, दिशावों में

सदा सन्मार्ग पर, चलें आप,
बुराई की राहों, से दूर रहें
मुस्कान सदा हो, चेहरे पे,
खुशियों से सदा, भरपूर रहें

खुशियों से भरा, हो घर-आंगन,
धन-बैभव से, खजाना भरा रहे
मोहन की, दिल से यही कामना,
जींदगी फूलों सा, खिला रहे

मोहन श्रीवास्तव (कवि)
www.kavyapushpanjali.blogspot.com
29-12-1999,4:45pm,wednsday,

chandrapur,maharashtra. 

Post a Comment