Sunday, 9 March 2014

विकास पुरुष नरेंद्र मोदी जी

वे शेरे दिल हैं भारत के,
वे गोली-बारूद से नहीं डरते
वे दुश्मनों की गीदड़-भभकी से,
कभी पिछे हटा नहीं करते

गीदड़ों का काम है दहशत फैलाना,
पर शेर का काम आगे बढ़ना
अपनी मंजिल मिलने तक,
मरते दम तक है लड़ना

डरना,धमकाना,दहशत फैलाना,
इनसे उनकी हताशा साफ झलकती है
पर मतवाला हाथी चलता रहता,
कुछ लोग शोर तो करते  रहते हैं

बंब बिस्फोटों धमकाने से,
ऐसे उनके हाथों को और मजबूती मिलेगा
अब हर दिल के मानसरोवर मे,
कमल का फूल ही खिला होगा

विकास पुरूष नरेंद्र मोदी जी के,
हाथों को आवो मजबूत करें
सुंदर भारत को बनाने के लिये,
आवो हम अपना योगदान जरुर करें
सुंदर भारत को बनाने के लिये,
आवो हम अपना योगदान जरुर करें......

मोहन श्रीवास्तव (कवि)






30-10-2013,Wednesday,08:50pm,(780),

Pune,Maharashtra.
Post a Comment