Wednesday, 17 September 2014

आएंगे अच्छे दिन अपने ?


बढ़  रहे  दाम  है  तेजी  से,
लोगों  का  हाल   बेहाल  हुआ  ।
आएंगे अच्छे  दिन  अपने  ?
हर ,दिल   में  आज  सवाल  उठा  ॥


भारत  का  नाम  बढ़ रहा है  आज ,
इसमे  कोई  संदेह  नहीं  ।
 पर महंगाई  रोकने  में अब  तक,
मोदी  सरकार  है  बिफल  रही  ॥

सरकारी  कामो  में  पारदर्शिता ,
इससे  जनमानस   में  बहुत  ख़ुशी 
 पर  रोटी -कपड़ा -मकान   के  लिए ,
आज  आम  आदमी  सभी  दुखी  ॥

नहीं चाहिए  सोना -चांदी ,
ना  ही महल  व  गाड़ी  ।
 रोटी -कपड़ा  व  सस्ते घर  हों ,
यही है मांग  हमारी  ॥ 

पर  आज  जिस  तरह  से  बढ़  रहे  हैं  दाम ,
ये  किसी  भी  तरह  से  ठीक  नहीं  । 
आएंगे  अच्छे  दिन  अपने  ?
 यह  हास्य  से बढ़कर  कुछ  भी  है  नहीं  ॥
 आएंगे  अच्छे  दिन  अपने  ? 
यह  हास्य  से बढ़कर  कुछ  भी  है  नहीं>>>>>

मोहन  श्रीवास्तव  (कवि )

13-09-2014,saturday, 06: 30  pm,Bahri,Sidhi (M.P)    
Post a Comment