Thursday, 4 September 2014

शिक्षक दिवस पर आप सभी को

गुरू  सदा  से  रहें  हैं  इस धरा  पे ,
और  आगे  भविष्य  में  रहेंगे  भी  । 
उन सब  के  आशीर्वाद से ही ,
 हम  सब  फूल  व फल रहे  सभी  ॥ 


बिना  गुरु  के ज्ञान  नहीं ,
ये वाक्य  भी  शत -प्रतिशत  है सही  । 
गुरु  हैं  मिलते  कई  रूप  में ,
मात -पिता  या  शिक्षक  हो कोई  ॥ 

 जिनसे  हम कुछ  सीख है  पाते ,
उन्हेँ    गुरु ही  हम  जाने । 
गुरु  से कभी  कपट  नहीं  करना, 
उन्हें  भगवान  से भी बढकर  माने ॥ 

कभी  गुरु का दिल न दुखाऐं ,
ना ही  कभी अपमान करें  । 
शुद्ध  ह्रदय  से सदा ही उनको ,
झुक  कर सदा प्रणाम  करें ॥ 

शिक्षक  दिवस पर  आप   सभी   को ,
बहुत -बहुत है बधाई  । 
सभी गुरुओं  को मेरा  शत -शत है नमन ,
जो हम सब की करते भलाई ॥ 
सभी गुरुओं  को मेरा  शत -शत है नमन ,
जो हम सब की करते भलाई …… 

मोहन  श्रीवास्तव (कवि )
04-09-2014, Thursday,Bahri,Sidhi (M.P)
(869) 03.00 PM
9009791406



Post a Comment