Friday, 2 March 2018

(वेटी) “ये वेटिया ये वेटिया”

ये वेटिया ये वेटिया देखो ये वेटिया |
होती धरा की शान हैं देखो ये वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............

होती हैं किसी राष्ट्र की सम्मान वेटिया |
रखती हैं सबकी देखो ये मान वेटिया  ||
ये वेटिया ये वेटिया............


दोनों कुलों की होती श्रुंगार वेटिया |
जिन्दगी के नाव की पतवार वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............

बाबा को बड़ी प्यारी होती हैं वेटिया |
दाई की दुलारी होती हैं वेटिया  ||
ये वेटिया ये वेटिया............


भाइयों की प्यारी बहना है वेटिया |
प्राणों से प्यारे पति का गहना है वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............


वचपन से हमे खूब रिझाती हैं वेटिया |
जिने के हमें गुण तो सिखाती हैं वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............

वक्त के हिसाब से ढलती हैं वेटिया |
कभी दहेज की आग में जलती हैं वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............

रिश्तों की नर्म डोर निभाती हैं वेटिया |
होती विदा जब घर से रुलाती हैं वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............

त्याग और बलिदान की मिशाल वेटिया |
हर घर को सदा रखती खुशहाल वेटिया ||

ये वेटिया ये वेटिया देखो ये वेटिया |
होती धरा की शान हैं देखो ये वेटिया ||
ये वेटिया ये वेटिया............


( कवि मोहन श्रीवास्तव )
Post a Comment